टीकमगढ़ के सांसद वीरेंद्र कुमार ने ली राज्‍यमंत्री की शपथ

0
9

टीमकगढ़। मोदी सरकार के मंत्री मंडल विस्‍तार में इस बार मध्‍यप्रदेश के टीकमगढ़ से सांसद डॉ वीरेन्द्र कुमार को राज्‍यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई है। वह टीकमगढ़ से छह बार लोकसभा सांसद रहे हैं। इसके साथ ही वह राष्‍ट्रीय सामाजिक सुरक्षा बोर्ड के सदस्‍य भी है। जेपी आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाने वाले कुमार आपातकाल के दौरान 16 महीने जेल में रहे थे।

वीरेन्‍द्र कुमार का जन्‍म 

सागर में 27 फरवरी 1954 में हुआ था। उन्‍होंने अपना राजनीतिक सफर संघ और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, विहिप के साथ शुरू किया। वह इस दौरान विभिन्‍न पदों पर रहे और अपनी भूमिका को पूरा किया। इसके साथ ही वह अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्‍यक्ष के रूप में भी कार्य कर चुके हैं।

सागर संसदीय 1996 में वह पहली बार 11वीं लोकसभा का चुनाव जीते थे। उसके बाद 12वीं, 13वीं और 14वीं लोकसभा में सागर से प्रतिनिधित्व किया। लोकसभा सीट के नए परिसीमन के बाद उन्‍होंने टीकमगढ़ लोकसभा सीट पर भी परचम फहराया। 15वीं और 16वीं लोकसभा में यही से प्रतिनिधित्व कर रहे है। इस दौरान उन्‍होंने सागर, छतरपुर, टीकमगढ़ में जनता दरबार लगाने का काम भी शुरू किया जिससे उनकी लोकप्रियता में इजाफा हुआ।

वीरेन्द्र कुमार की छवि

डॉ वीरेन्द्र कुमार की छवि एक सादगी पूर्वक रहने वाले ईमानदार और अपने संसदीय क्षेत्र में सदैव सक्रिय रहने वाले सांसद के रूप में है। इसके साथ ही मध्‍यप्रदेश सरकार के वनमंत्री गोरी शंकर शेजवार उनके साले हैं। इन्‍हीं सब बातों को ध्‍यान में रखते हुए उन्‍हें प्रधानमंत्री मोदी ने केंद्र सरकार में शामिल करने का निर्णय लिया है। उनके शपथ लेने के साथ ही उनके संसदीय क्षेत्र में खुशी की लहर दौड़ गई और लोगों ने पटाखे जलाकर व एक दूसरे को मिठाई खिलाकर अपनी खुशी का इजहार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here